शिक्षक विकास

शिक्षा पर विगत तीन-चार दशकों से चल रही शैक्षिक बहस में उत्‍पादक काम और उससे शिक्षा के जुड़ाव के मुद्दे ने खासी जगह हासिल की है। लेकिन इस बहस का मतलब क्‍या है ? इस बात को जाने-माने शिक्षाविद् अनिल सद्गोपाल ने अपने और तमाम अन्‍य संस्‍थाओं के काम के उदाहरणों के जरिए बहुत सरल शब्‍दों में इस साक्षात्‍कार में व्‍यक्‍त किया है।

शिक्षा पर विगत तीन-चार दशकों से चल रही शैक्षिक बहस में उत्‍पादक काम और उससे शिक्षा के जुड़ाव के मुद्दे ने खासी जगह हासिल की है। लेकिन इस बहस का मतलब क्‍या है ? इस बात को जाने-माने शिक्षाविद् अनिल सद्गोपाल ने अपने और तमाम अन्‍य संस्‍थाओं के काम के उदाहरणों के जरिए बहुत सरल शब्‍दों में इस साक्षात्‍कार में व्‍यक्‍त किया है।

कक्षा में शिक्षण का तरीका क्‍या हो, बच्‍चों को कक्षा में कितने और किस तरह  के अवसर मिलें, शिक्षक और प्रधानाध्‍यापिका की इसमें क्‍या भूमिका हो। यह छोटा सा वीडियो इन्‍हीं बातों का एक जवाब देता है। जवाब और भी हो सकते हैं। देखें।

एक अच्‍छे स्‍कूल के लिए जरूरी है कि वह अपने विद्यालय में पढ़ने वाले विद्यार्थियों के माता-पिता तथा अभिभावकों के सतत सम्‍पर्क में रहे। ऐसा करने से वे विद्यार्थियों के शिक्षण में उनकी मदद भी ले सकेंगे और विद्यार्थियों की निजी समस्‍याओं से भी परिचित हो सकेंगे।

एक विद्यालय की प्रधानअ‍ध्‍यापिका इसके लिए किस तरह की प्रयास करती हैं, यह इस वीडियो में दिखाया गया है। देखें, शायद आपके लिए भी इसमें कुछ संकेत हों।

उमाशंकर पेरियोडी

संभवत: देश के हर जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्‍थान (डायट) से यह अपेक्षा है कि वे अपने शिक्षक एवं शिक्षक-विद्यार्थियों के लिए किसी अनियतकालीन पत्रिका का प्रकाशन करें। ताकि उन्‍हें अपने अनुभवों,विचारों आदि को सभी के साथ साझा करने का अवसर मिल सके।

पर इस सुविधा का लाभ या यह कहें कि इस दिशा में पहल कुछ गिने चुने संस्‍थान ही कर पाते हैं।

मनोज कुमार

डेनियल ग्रीनबर्ग       

यह धारणा आम है कि शिक्षक अक्‍सर स्‍कूल में अनुपस्थित रहते हैं। इससे बच्‍चों का पढ़ाई का नुकसान होता है। यह बात तो सही है कि अगर शिक्षक ही कक्षा में नहीं होगा, तो पढ़ाएगा कौन ?  हम सब भी यह मान लेते हैं कि हाँ यह सही है। पर वास्‍तव में कितने शिक्षक वाजिब कारणों से स्‍कूल में नहीं आते हैं और कितने गैरवाजिब कारणों से, इस बात पर ठहरकर गौर करने का समय सबके पास नहीं होता है। 

पृष्ठ

13746 registered users
5799 resources