कक्षा 3 - 5

त्रिपुरारी शर्मा वरिष्‍ठ रंगकर्मी हैं। वे नेशनल स्‍कूल ऑफ ड्रामा में प्राध्‍यापक हैं। उन्‍होंने बच्‍चों के लिए कई नाटकों का निर्देशन किया है। वे बच्‍चों के लिए कहानियाँ भी लिखती हैं। उनकी एक कहानी को रूमटूरीड ने चित्रकथा के रूप में प्रकाशित किया है। यह कहानी है भभो भैंस। इसकी पीडीएफ यहॉं से डाउनलोड की जा सकती है।

मनोहर चमोली  'मनु' शिक्षक हैं। उत्‍तराखण्‍ड के पहाड़ों में रहते हैं। वे बच्‍चों के लिए कहानियाँ भी लिखते हैं। छोटे बच्‍चों के लिए लिखी गई उनकी एक कहानी 'चलता पहाड़' को रूम टू रीड ने चित्रकथा के रूप में प्रकाशित किया है। उसकी पीडीएफ यहाँ से ली जा सकती है।

मुकेश मालवीय शिक्षक हैं। वे बच्‍चों के लिए कहानियाँ भी लिखते हैं। छोटे बच्‍चों के लिए लिखी गई उनकी एक कहानी को रूम टू रीड ने चित्रकथा के रूप में प्रकाशित किया है। उसकी पीडीएफ यहाँ से ली जा सकती है।

गणित को केवल रोचक तरीके से पढ़ाना ही पर्याप्‍त नहीं है। किसी भी अवधारणा को बच्‍चों के सामने किस तरह रखा जा रहा है, वह भी महत्‍वपूर्ण है। हरीश जे थानवी अपनी कक्षा में बच्‍चों के साथ भिन्‍न की अवधारणा पर काम कर रहे हैं।

संज्ञा उपाध्‍याय की तीन बाल कविताएँ इस वीडियो में हैं। ये प्राथमिक कक्षाओं के विद्यार्थियों के लिए उपयोगी हैं। इनमें से एक कविता कुछ इस तरह है :

मकड़ी जाला बुनती है
नहीं किसी की सुनती है

पूरे घर को देखभाल कर
कोने-अँतरे चुनती है

दम साधे जाले में बैठी
गुर शिकार के गुनती है

आज जब मैंने कक्षा में प्रवेश किया तो मेरे हाथ में कुछ सामग्री देखकर बच्चे जिज्ञासा से मेरी तरफ देखकर आपस में खुसर-फुसर करने लगे। कि आज शायद हम कुछ नए प्रयोग करेंगे मैम आज बहुत सारा सामान लाई हैं।

बच्‍चों को पुस्‍तकालय में किताबों के प्रति आकर्षित करने के लिए कुछ रोचक गतिविधियों की चर्चा इस वीडियो में की जा रही है। उन शिक्षकों के लिए यह चर्चा उपयोगी है, जो बच्‍चों में पाठ्यपुस्‍तकों के अलावा अन्‍य किताबों के प्रति रुचि उत्‍पन्‍न करना चाहते हैं।

मुम्‍बई के होमी भाभा विज्ञान शिक्षण केन्‍द्र ने कक्षा 3 से 5 के लिए विज्ञान की कक्षाओं हेतु 'हलका-फुलका विज्ञान' शृंखला में पाठ्यपुस्‍तकें विकसित की हैं। इसमें कक्षा के लिए पाठ्यपुस्‍तक, कार्यपुस्‍तक तथा शिक्षक निर्देशिका हैं।

कक्षा 4 के लिए विकसित किताबों की पीडीएफ यहाँ मौजूद है। आप डाउनलोड कर सकते हैं।

 

रामेश्वरी लिंगवाल

एन.सी.ई.आर.टी. की कक्षा 3 की ईवीएस की किताब इस बार द्वारा अँग्रेजी में पढ़ाने हेतु शुरू की गई है। इस किताब को पढ़ाना मेरे लिए किसी चुनौती से कम नहीं था। वह इसलिए क्योंकि हमारे विद्यालय की कक्षा 3 में 6 बालक व 8 बालिकाएँ हैं। जिनमें से कईयों को अभी हिन्दी भी ठीक से पढ़ना नहीं आता। तो उन्हें अँग्रेजी माध्यम में पढ़ाना मुश्किल भरा काम है।

शून्‍य एक सम संख्‍या है, या विषम संख्‍या ?
आईये साथ मिलकर जानने की कोशिश करें, इस वीडियो के माध्‍यम से

पृष्ठ

17589 registered users
6689 resources