गणित

भिन्‍न के सीखने-सिखाने में आने वाली दिक्‍कतों को समझने के लिए निदेश सोनी ने कुछ दिनों पहले एक वीडियो बनाया था, जिसमें  भिन्‍न शिक्षण और बच्‍चों को समझाने में आने वाली दिक्‍कतों पर बात की थी। इसके बाद अब दूसरा वीडियों जिसमें वे भिन्‍नों के अलग-अगल अर्थ को समझाने का प्रयास कर रहे हैं। यह वेअर्थ हैं, जो बच्‍चों व शिक्षकों में भिन्‍न की एक समग्र समझ को बनाने में मददगार है वहीं भिन्‍न को एक संख्‍या के रूप में देखने व उसकी मात्रा को समझने में हमारी मदद करते है। यहॉं पर  कुल 5 अर्थों की बात की है।

सत्रह हजार सत्रह सौ सत्रह को अंकों में कैसे लिख‍ेंगे ? पहले लिखकर देखिए। फिर निदेश सोनी के इस वीडियो में इस पहेली का हल भी मिलेगा। सामान्‍य सी लगने वाली यह पहेली, अपने में गहरी बात छिपाए हुए है।

माया सभ्‍यता में किस प्रकार से संख्‍याओं को लिखा जाता था, और किन प्रतीकों का उपयोग किया जाता था। देखिये इस वीडियों में और हमारे साथ कुछ संख्‍याओं को लिखने के अभ्‍यास भी कीजिए।

गणित को केवल रोचक तरीके से पढ़ाना ही पर्याप्‍त नहीं है। किसी भी अवधारणा को बच्‍चों के सामने किस तरह रखा जा रहा है, वह भी महत्‍वपूर्ण है। हरीश जे थानवी अपनी कक्षा में बच्‍चों के साथ भिन्‍न की अवधारणा पर काम कर रहे हैं।

स्‍कूली बच्‍चों को ऋणात्‍मक संख्‍याओं के शिक्षण में शिक्षकों को, और बच्‍चों को कई तरह की दिक्‍कतों का सामना करना पढ़ता है। अगर हम इन दिक्‍कतों के बारे में समझें तो शायद हम बच्‍चों को बेहतर तरीके से सीखने के मौके दे सकते हैं

शून्‍य एक सम संख्‍या है, या विषम संख्‍या ?
आईये साथ मिलकर जानने की कोशिश करें, इस वीडियो के माध्‍यम से

शून्‍य एक सम संख्‍या है, या विषम संख्‍या ?
आईये साथ मिलकर जानने की कोशिश करें, इस वीडियो के माध्‍यम से

भिन्‍न एवं परिमेय संख्‍याओं में अन्‍तर को समझाने के लिए निदेश सोनी वीडियो के माध्‍यम से एक प्रयास कर रहे हैं। इस क्रम में यह उनका चौथा वीडियो है। देखें और इसका लाभ उठाएँ।

पृष्ठ

17665 registered users
6704 resources