मूँगाराम माली

'अगर सभी शिक्षक ईमानदारी से अपनी सर्वस्व योग्यता को विद्यालय हित में लगाएँ तो ऐसा कोई कारण नहीं होगा जो हमारे ग्रामीण बच्‍चों को एक सुसभ्य नागरिक बनने से रोक पाए।' यह कहना है मूँगाराम माली का जो राजकीय उच्‍च प्राथमिक विद्यालय,थल,मण्‍डार,सिरोही,राजस्‍थान में शिक्षक हैं।

हिन्दी
18795 registered users
7333 resources